भारत में अंग्रेजो द्वारा बसाया गया एक अनोखा शहर

,आज हिमांचल का प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है

Play Sound

Information : डलहौजी और खजियार हिमांचल प्रदेश के प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों में से एक है यहाँ की खूबसूरती जो कोई भी एक बार देख लेता उसके जेहन में हमेशा इस जगा से जुडी यादें अपना घर बना लेती है 1853 में अंग्रेजों ने यहां की जलवायु से प्रभावित होकर पोर्टि्रन, कठलोश, टेहरा, बकरोटा और बलून पहाडि़यों को चंबा के राजाओं से खरीद लिया था। इसके बाद इस स्थान का नाम लॉर्ड डलहौजी के नाम पर डलहौजी रख दिया गया। बलून पहाड़ी पर उन्होंने छावनी बसाई, जहां आज भी छावनी क्षेत्र है। शहर मुख्यत: पौर्टि्रन पहाड़ी के आसपास बसा है।ये स्थान धौलाधार की पहाड़ियों पे स्तिथ है पहाड़ी पर स्तिथ ये छोटा सा शहर चारो तरफ से चीड़ और देवदार के पेड़ों से घिरा हुआ है . किसी ने खूब कहा है के अगर डलहौजी की खूबसूरती को देखना है तो यहाँ की शांत सड़को पे निकल जाये आप अपने आप को किसी अलग ही जगा पर पाएंगे . गर्मियों के दिनों में तो यहाँ देश भर से पर्यटकों का ताँता लगा रहता . सर्दियों के दिनों में यहाँ भरी बर्फ बारी होती है जिसकी वजह से यहाँ बोहोत से पर्यटक बर्फ बारी देखने आते है .

डलहौजी में 10 जगह है घूमने वाली डैणकुंड पीक ,चमेरा लेक , जॉन चर्च,गाँधी चौक , पैट्रिक्स चर्च , सच पास ,फ्रांसिस चर्च ,पंजपुला , गरम सड़क और सबसे प्रसिद्ध जगा इनमे से है खजियार . जिसके बिना डल्हौज़ी का नाम अधूरा है . खजियार को मिनी स्विट्ज़रलैंड भी कहा जाता है ये एक बोहोत बड़ा घास का मैदान है जो चारो तरफ से देवदार के पेड़ों से घिरा हुआ है . यहाँ का नज़ारा किसी का भी मन मोह लेगा घास के मैदान में एक छोटी सी लेक भी है .यहाँ का नज़ारा तब देखने लायक होता जब यहाँ बर्फ बारी होती है यहाँ आराम से रहने के लिए आपको होटल और गेस्ट हाउस मिल जायेंगे . यहाँ पोहॉंछने के लिए क्या करे हम आपको बताते है डलहौजी समुद्र स्‍तर से 2700 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ है। सर्दियों के दौरान यहां भयंकर बर्फबारी होती है। डलहौजी, भारतीय राजधानी दिल्ली से 563 किमी. , अमृतसर से 191 किमी., चंबा से 56 किमी. और चंडीगढ़ से 300 किमी. की दूरी पर स्थित है। यहां के लिए निकटतम एयरपोर्ट पठानकोट है जो डलहौजी से 80 किमी. की दूरी पर स्थित है। यह हवाई अड्डा दिल्‍ली के एयरपोर्ट से जुड़ा हुआ है। तो इन गर्मियों में आप इस मनमोहक जगा जरूर हो के ए अपने परिवार के साथ . निचे वीडियो जरूर देखे इस स्थान की .

165