जैन मुनि बोले जो हूआ लड़की की मर्जी से हुआ

,मेडिकल रिपोर्ट में हुई पुष्टि

Play Sound

Information : अभी बाबा राम रहीम का मामला ठंडा नहीं पड़ा . आज नया मामला जैन मुनि शांति सागर (49) बाबा का आया है जिन्हे 19 साल की लड़की से रेप के आरोप में गिरफ्तार किया गया है मेडिकल के वक़्त बाबा ने डॉक्टर से कहा के लड़की सपरिवार सूरत आयी थी टीमलियावाड नानपुरा धर्मशाला में लड़की की रजामंदी से सब कुछ हुआ था और उन्होंने ऐसा ज़िन्दगी में पहली बार किया था ये पूरी बात डॉक्टर्स ने लीगल केस रजिस्टर में दर्ज की है इस के बाद मुनि को जेल भेज दिया गया है शनिवार को मुनि का मेडिकल हुआ है इस दौरान जरूरी सैंपल नहीं लिया जा सका . डॉक्टर्स का कहना है के पुलिस उन्हें दोबारा लाये पुलिस फोरेंसिक जाँच भी करवाएगी

शांतिसागर एमपी के गुना डिस्ट्रिक्ट में ताऊजी के साथ रहे है उनके साथ इनके अचे सम्बन्ध है । इनके एक दोस्त से मिली जानकारी से पता चला के कि पहले उनका नाम गिरराज शर्मा था। उनका परिवार कोटा में रहता था। पिता सज्जनलाल शर्मा पेशे से हलवाई थे। दोस्त ने बताया कि गिरराज मौज-मस्ती में जीने वाला था। पढ़ाई में एवरेज था पर खूब क्रिकेट खेलता था। उनके दोस्तों का ग्रुप शहर में उन दिनों के सबसे फैशनेबल युवाओं का था। कपड़े हों या हेयर कट, नए ट्रेंड को सबसे पहले यही ग्रुप अपनाता था। - गिरराज 22 साल की उम्र में मंदसौर में जैन संतों के कॉन्टेक्ट में आए। पढ़ाई अधूरी छोड़कर वहीं दीक्षा लेकर गिरराज से शांतिसागर महाराज बन गए। संन्यासी बनने के तीन दिन पहले वह गुना आए थे। दो दिन बिताने के बाद कभी गुना नहीं लौटे। मुनि बाबा पर मध्यप्रदेश के ग्वालियर में रहने वाली लड़की ने रपे का आरोप लगाया था शुक्रवार को उनके खिलाफ केस दर्ज हुआ और शनिवार को उन्हें मेडिकल के लिए ले जाया गया और मेडिकल में रपे की बात कन्फर्म होने के बाद मुनि बाबा को गिरफ्तार कर लिया गया इसके बाद जैन म्युनिटी की कुछ आॅर्गनाइजेशन ने प्रदर्शन भी किया .

131