एक ऐसा सागर जिसमे कोई नहीं डूबता

,वैज्ञानिक भी हैरान दुनिया का सबसे बड़ा रहस्य

Play Sound

Information : वैसे तो दुनिया भर में बोहोत सी विचित्र और रहस्मयी स्थान है पर क्या आप जानते है एक ऐसा सागर भी है जहां कोई नहीं डूबता . ये स्थान मृत सागर के नाम से मशहूर है ये स्थान इसराइल फिलस्तीन जॉर्डन और मध्यपूर्व एशिया के बिच में स्तिथ है . हालांकि ये एक झील है पर इसका पानी समुन्द्र के पानी से 8.6 गुना ज्यादा खारा है इस खरे पानी में न तो किसी वनस्पति और न तो किसी व्यक्ति का जीवित रह पाना संभव है इसी लिए इसे डेथ सी या मृत सागर भी कहा जाता है मृत सागर में समद्र ताल से भी गहरा धरती का सबसे निचला बिंदु स्तिथ है इस सागर में पाए जाने वाला पानी दुनिया में पायी जाने वाली किसी भी झील समुन्द्र या नदियों में पाए जाने वाले पानी से सबसे उच्च घनत्व वाला है . इस पानी का भार इतना ज्यादा है के इसमें अगर आप सीधे भी लेट जाये तब भी इसमें नहीं डूबेंगे . ये पानी स्वास्थ के लिए बोहोत अच्छा माना जाता है इसमें आम पानी से 20 गुना ज्यादा ब्रोमिड जो के धवनियो को शांत करता है ५० गुना ज्यादा मेग्नीशियम जो के त्वचा और स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है और 10 गुना ज्यादा आयोडीन जो के ग्रंथियों की कार्य शीलता बढ़ता है इसके कीचड़ को भी सौंदर्य प्रसाधन के लिए अच्छा माना जाता है

कहा जाता है के मिस्र की क्लिओपेट्रा की सुंदरता का राज भी मृत सागर ही था . इसका पानी ओषधि के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है प्राचीन कल में लोग इस सागर के पानी का उपयोग स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओ के लिए भी किया करते थे वैज्ञानिको ने भी इस बात को माना है . इसका इस्तेमाल चरम रोग गठिया अदि रोगो के लिए भी किया जाता है . इसलिए एशिया में ये सागर चिकित्सा का केंद्र बनता जा रहा है ऐसा कहा जा है के प्राचीन कल में इस सागर के तल से नाओ द्वारा शिलाजीत निकली जाती थी और उससे मिस्र के लोगो को बेचा जाता था मृत सागर का यहूदी इस्लाम धर्म में भी वर्णन है इस्लाम के अनुसार सोढुम शहर चोर डाकू और लुटेरों का शहर माना जाता था और यहाँ के लोगो ने खुदा के आदेश को मानने से इंकार कर दिया इसी लिए खुदा ने इस शहर को ऊपर कर दिया और वर्षा के पानी को निचे कर दिया जिससे इसका पानी खारा हो गया ऐसा कुरान और बाइबल में लिखा है . यहाँ 10 गुफाये मिली है जो 2000 साल से भी पुरानी है ! है न मजेदार खबर अछि लगे तो शेयर जरूर करे दोस्तों

180